PM Kisan Maandhan Yojana : किसानों को हर महीने मिलेगी 3000 रुपये पेंशन, ऐसे करे ऑनलाइन आवेदन

यहां हम केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) के बारे में बताने जा रहे हैं । यह योजना विशेष रूप से किसान के भविष्य को आर्थिक रूप से सुरक्षित करने के लिए शुरू की गई है। पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) में निवेश कर किसान 60 वर्ष की आयु के बाद हर महीने 3,000 ह्जार रुपए पेंशन का लाभ उठा सकते हैं, सरकार कि इस योजना में देश भर में बड़े पैमाने पर किसानों द्वारा आवेदन (PM Kisan Mandhan Yojana Registration) किया जा रहा है, इसी प्रकार आइए हम जानते हैं पीएम किसान पेंशन (Penson ) योजना के बारे में विस्तृत जानकारी.

Read Also :- PMKSN Update 2022 : केवल इन किसानों को मिलेगी PM Kisan Yojana की 12वीं किस्त कब होगी जारी

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) के तहत सरकार 60 वर्ष से अधिक बुजुर्ग किसान को 1 साल में ₹36000 देती है, सरकार की ओर से हर महीने बुजुर्गों को ₹3000 की पेंशन दी जाती है, इसके तहत किसानों को सरकार द्वारा पीएम किसान योजना में हर महीने कुछ रुपए जमा कराने होंगे, पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) का लाभ 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग से लेकर 40 वर्ष की आयु  वर्ग के किसान ले सकते हैं,

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) के नियमों में किसानों को हर महीने 55 से ₹200 जमा करने होते हैं,तथा जब किसान की आयु 60 वर्ष से अधिक हो जाती है तो पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) में हर महीने ₹3000 पेंशन के तौर पर दिए जाते हैं अगर किसान की उम्र 18 साल है तो उसे पीएम किसान योजना में हर महीने ₹55 जमा कराने होते हैं और अगर किसान की उम्र 40 वर्ष है तो उसे ₹200 जमा कराने होते हैं

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़े !

पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) में यदि किसी किसान की दुर्भाग्य से मृत्यु हो जाती है तो ऐसे में किसान की पत्नी को 1500 रुपए पेंशन का लाभ दिया जाता है. छोटे और सीमांत किसान इस योजना में रुपए निवेश कर अपना आर्थिक भविष्य सुरक्षित किया जा सकता है

पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

खतौनी– उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए
आयु प्रमाण पत्र– उम्मीदवार किसान गरीब व सीमांत होना चाहिए, केवल 2 हेक्टेयर से कम भूमि वाले किसान को ही इस योजना में पात्र माना जाएगा
पहचान प्रमाण पत्र–  बैंक खाते की पासबुक और आधार कार्ड का बैंक खाते से जुड़ा होना जरूरी है

प्रधानमंत्री किसान योजना की शुरुआत

प्रधानमंत्री मोदी ने 12 सितंबर 2019 को झारखंड में एक आयोजन किया गया, जबकि पीएम किसान योजना के लिए पंजीकरण को 1 महीने पहले ही 9 अगस्त को शुरू किया था । किसान चाहे तो इस योजना के तहत ₹6000 का अपना सीधा प्रीमियम भी कटा सकते हैं

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) का उद्देश्य

यह योजना मुख्य रूप से असंगठित श्रमिकों को बुढ़ापे में सहायता करना, वह अपने बुढ़ापा स्वाभिमान के लिए दी जाती है, और इसलिए किसान को दूसरे पर निर्भर ना होना पड़े पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana ) में पेंशन प्राप्त राशि से अपनी आजीविका चला सकें और अपनी जरूरतों को पूरा कर सके, सभी किसान इस योजना में भागीदार बन सकते हैं

योजना का नाम पीएम किसान मानधन योजना
कब शुरूआत गई 9 अगस्त
किसने कि शुरूआतकेंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा
कौन सा मंत्रालय कृषि एवं कल्याण मंत्रालय द्वारा
लाभार्थी व्यक्ति भारत के मजदूर सीमांत किसान
ऑनलाइन आवेदन maandhan.in
कितनी पेंशन ₹3000 /
संपर्क नंबर 180030003468
हमसे टेलीग्राम पर जुड़ेयहाँ से जुड़े !
Home PageClick Here

Leave a Comment